IND VS NZ: पहले मैच में करारी हार के बाद कोहली ने लगाई क्लास, कहा-विदेशों में सतर्कता बरतने से कुछ नहीं होगा

0
115
Virat Kohli, Pujara

न्यूजीलैंड की सरजमीं पर भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट सीरीज की शुरुआत हो गई है। वेलिंगटन के बसिन रिजर्व में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत को 10 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा। भारतीय टीम दोनों ही पारियों में 200 रनों क आंकड़ा भी पार नहीं कर पाई। न्यूजीलैंड के पीच पर भारतीय बल्लेबाज जूझते नजर आए, जिसका खामियाजा टीम को भुगतना पड़ा और भारतीय टीम को करारी मिली। टीम का कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहा।

इसे भी पढ़े- 10 विकेटों से पहला टेस्ट हारी टीम इंडिया, कप्तान कोहली ने कहा- एक हार का मतलब ये नहीं…

पुजारा और विहारी ने खेली थी बहुत ही धीमी पारी

भारतीय बल्लेबाजों ने वेलिंगटन टेस्ट में बहुत ही रक्षात्मक रवैया अपनाया। टेस्ट के अनुभवी खिलाड़ियों में शुमार चेतेश्वर पुजारा काफी संभल कर खेलते नजर आए। उन्होंने बहुत ही धीमी पारी खेली। पुजारा ने 81 गेंदो में 11 रन बनाएं। वहीं, हनुमा विहारी ने 79 गेंदो में 15 रन बनाए। पहले मैच में करारी हार के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपने बल्लेबाजों से बेहद रक्षात्मक रवैया छोड़ने की अपील करते हुए कहा कि विदेशी दौरों में इस तरह के खेल से कोई फायदा नहीं मिलता।

इसे भी पढ़े- भारतीय बल्लेबाजों पर भारी पड़े NZ के गेंदबाज, जेमिसन ने डेब्यू मैच में चटकाए 3 विकेट

हार के बाद भारतीय कप्तान कोहली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि बल्लेबाजी इकाई के तौर पर हम जिस तरीके का उपयोग करते हैं, उसे सही करना होगा। मुझे नहीं लगता कि सतर्क होने या बेहद सावधानी बरतने से मदद मिलेगी क्योंकि ऐसे में हो सकता है कि आप अपने शॉट नहीं खेल पाओ।’ विराट कोहली ने कहा, आपको संदेह पैदा होगा, अगर इन परिस्थितियों में एक रन भी नहीं बन रहा है, आप क्या करोगे? आप केवल यह इंतजार कर रहे हो कि कब वह अच्छी गेंद आएगी जो आपका विकेट ले लेगी।

वेलिंगटन में भारतीय टीम नहीं कर पाई 200 का आंकड़ा पार

बता दें, पहले टेस्ट में न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। कप्तान केन विलियमसन का यह फैसला काफी हद तक सही साबित हुआ। भारतीय टीम पहली पारी में मात्र 165 रनों के कुल स्कोर पर ऑलआउट हो गई। पहली पारी में उपकप्तान आजिंक्य रहाणे ने सर्वाधिक 46 रन बनाएं। जवाब में उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने 348 रनों का स्कोर खड़ा किया और 183 रनों की बढ़त बना ली। कप्तान विलियमसन ने 89 रनों की शानदार पारी खेली।

इसे भी पढ़े- BCCI अध्यक्ष ने किया साफ, आस्ट्रेलिया दौरे पर डे-नाइट टेस्ट खेलेगी टीम इंडिया

दूसरी पारी में मयंक अग्रवाल के 58 रनों की मदद से भारतीय टीम 191 रन ही बना पाई। भारत के 8 खिलाड़ी दूसरी पारी में 20 रनों का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाए। न्यूजीलैंड को जीत के लिए मात्र 9 रनों की दरकार थी, जिसे उसके ओपनर बल्लबाजों ने आसानी से हासिल कर लिया और न्यूजीलैंड ने 2 मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली। सीरीज का अगला मैच 29 फरवरी से 4 मार्च के बीच क्राईस्ट चर्च में खेला जाएगा। पहले मैच में करारी हार के बाद भारतीय कप्तान टीम में बदलाव कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here