अब हवाओं में भी घुल रहा कोरोना वायरस का जहर, सामने आये चौंकाने वाले खुलासे

कोरोना वायरस को लेकर कुछ ऐसे तथ्य सामने आये हैं जो आपकी नींदें उड़ा सकते हैं. इसको लेकर ऐसा खुलासा हुआ है जिसको सुनकर दुनियाभर की सरकार और चिकित्सा विशेषज्ञों को एक पल के लिए झटका लग सकता है.

0
110
corona

कोरोना वायरस को लेकर कुछ ऐसे तथ्य सामने आये हैं जो आपकी नींदें उड़ा सकते हैं. इसको लेकर ऐसा खुलासा हुआ है जिसको सुनकर दुनियाभर की सरकार और चिकित्सा विशेषज्ञों को एक पल के लिए झटका लग सकता है. शंघाई के अधिकारियों के मुताबिक कोरोना वायरस अब हवा के जरिये लोगों को संक्रमित कर रहा है. ये वायरस हवा में मौजूद सूक्ष्म बूंदों में मिलकर दूसरों को इन्फेक्ट कर रहा है और हवा में तैरकर ये इंफेक्शन फैला रहा है जिसको एयरोसोल ट्रांसमिशन कहा जाता है. बता दें कि अभी तक ये दावे किये जा रहे थे कि ये वायरस प्रत्यक्ष संचरण (डायरेक्ट ट्रांसमिशन) और संपर्क संचरण (कॉन्टैक्ट ट्रांसमिशन) से ही फैलता है.

क्या होता है एयरोसोल ट्रांसमिशन?

शंघाई सिविल अफेयर्स ब्यूरो के डेप्युटी हेड के मुताबिक एयरोसोल ट्रांसमिशन का मतलब है कि ये वायरस हवा में मौजूद सूक्ष्म बूंदों से मिलकर एयरोसोल बना रहा है. जिसके बाद अगर कोई इस जहरीली हवा में सांस लें तो उसे इस वायरस से संक्रमित होने का खतरा सबसे ज्यादा रहता है. डिप्टी हेड आगे बोले कि इसके मद्देनजर हमने लोगों से अपील की है कि वो पारिवारिक सदस्यों से संक्रमित होने से बचने के उपायों को लेकर अपनी जागरूकता बढ़ाएं.

ये भी देखें :Corona Virus: क्या वायरलॉजिस्ट डॉ.अली मोहम्मद जैकी ने लगाया था “कोरोना वायरस” का पता? जानिए…

छींकने से भी फ़ैल सकता है इंफेक्शन

एक्सपर्ट्स का कहना है कि प्रत्यक्ष संचरण (डायरेक्ट ट्रांसमिशन) का मतलब है कि संक्रमित व्यक्ति अगर छींक या खांस रहा है तो पास के व्यक्ति के सांस लेते वक्त वायरस उसमें प्रवेश कर जाएगा. वहीं, संपर्क संचरण (कॉन्टैक्ट ट्रांसमिशन) तब होता है जब कोई व्यक्ति वैसी कोई वस्तु छूकर अपना मुंह, नाक या आंख स्पर्श करता है जिसमें वायरस युक्त सूक्ष्म बूंदें चिपकी होती हैं.

ये भी देखें :केरल में कोरोना वायरस का बढ़ता खौफ, राज्य सरकार ने किया आपदा का एलान, हाई अलर्ट घोषित

चीन की सरकार की लोगों से ये अपील

चीन की सरकार ने लोगों से अपील की है कि वो एक जगह इकट्ठा होने से बचें, वेंटिलेशन के लिए खिड़कियां खोलें, साफ-सफाई का ध्यान रखें और घर में छिड़काव और सफाई करते रहें, खासकर दरवाजों के हैंडल, खाने के टेबल और टॉइलट सीट आदि की. गौरतलब है कि दिसंबर महीने में चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ करॉना वायरस अब तक 811 लोगों की जान ले चुका है. दक्षिण पूर्व चीन में भी एक शख्स को सिर्फ 15 सेकंड में कोरोना वायरस ने संक्रमित कर दिया. यह शख्स एक बाजार में संक्रमित महिला के पास सिर्फ 15 सेकंड खड़ा हुआ, बस इतनी ही देर में वह जानलेवा बीमारी की चपेट में आ गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here